समर्थ योजना संपूर्ण जानकारी | Samarth scheme ministry of textiles

समर्थ योजना 2019 | क्या है  समर्थ स्कीम | समर्थ योजना हिंदी में |  समर्थ स्कीम ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म | Samarth scheme ministry of textiles

क्या है समर्थ योजना | What is Samarth scheme ministry of textiles

नमस्कार साथियों भारत की टेक्सटाइल मिनिस्ट्री में समर्थ योजना की शुरुआत की है| साथियों आज हम आपको भारतीय वस्त्र मंत्रालय की इस समर्थ योजना की जानकारी देने जा रहे हैं| मिनिस्ट्री आफ टैक्सटाइल द्वारा शुरू की गई समर्थ स्कीम के अंतर्गत देश के युवाओं का कपड़ा उद्योग के कार्य के लिए कौशल विकास (free skill training) किया जाएगा| इसके साथ ही मिनिस्ट्री आफ टैक्सटाइल की समर्थ योजना द्वारा देश के बेरोजगार युवाओं को कपड़ा उद्योग के अंदर रोजगार भी दिलवाया जाएगा| आपको बता दें कि Samarth scheme ministry of textiles एक मुक्त योजना है. अर्थात इस योजना के अंतर्गत आपको मुफ्त प्रशिक्षण दिया जाएगा| जिससे आपके कौशल में भी विकास होगा और आप कपड़ा उद्योग में रोजगार के नए अवसर प्राप्त कर पाएंगे |

समर्थ योजना

इस योजना द्वारा कपड़ा उद्योग में कार्य करने वाले लोगों का हुनर  निखारा जाएगा. उन्हें अपने काम में दक्ष बनाया जाएगा. जिससे टैक्सटाइल इंडस्ट्री में उत्पादकता भी बढ़ेगी और गुणवत्ता भी बढ़ेगी.

समर्थ स्कीम  देगी चार लाख लोगों को प्रशिक्षण

इन  नई टेक्सटाइल स्कीम के  अंतर्गत देश के 18 राज्यों के लगभग चार लाख लोगों को मुफ्त प्रशिक्षण दिया जाएगा. भारत सरकार ने समर्थ स्कीम लागू करने के लिए देश के 18 राज्यों का चुनाव किया है. देश के 18 राज्यों में से 16 राज्यों में Samarth scheme ministry of textiles को शुरू करने के लिए एमओयू भी साइन कर दिया है. एमओयू हस्ताक्षर के समय केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी भी मौजूद रही. वस्त्र मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि भारत के इतिहास में यह इस तरह का पहला बड़ा कदम है. उन्होंने कहा कि भारत सरकार सहित सभी 18 राज्यों में एक छत के नीचे देश के 400000 लोगों को कुशल बनाने का संकल्प लिया है.

वस्त्र उद्योग से जुड़ी  इसे अब तक की सबसे बड़ी टैक्सटाइल्स स्कीम माना जा रहा है. जिससे टैक्सटाइल इंडस्ट्री में काम करने वाले लोगों को प्रशिक्षण तो दिया ही जाएगा साथ ही उन्हें रोजगार भी दिया जाएगा. मिस्ट्री ऑफ टेक्सटाइल समर्थ स्कीम से स्वरोजगार को भी बढ़ोतरी मिलेगी.

समर्थ योजना की विशेषताएं और  उद्देश्य

  • समर्थ स्कीम के  अंतर्गत देश के 18 राज्यों के लगभग 4 लाख लोगों को वस्त्र उद्योग से संबंधित मुक्त प्रशिक्षण दिया जाएगा.
  • इस योजना से इस योजना से कपड़ा उद्योग में काम करने के इच्छुक लोगों को रोजगार के नए अवसर प्राप्त होंगे.
  • टैक्सटाइल इंडस्ट्री से संबंधित लोगों के हुनर का विकास होगा. जिससे उत्पादों में गुणवत्ता भी बढ़ेगी और उत्पादकता भी अधिक होगी.
  • योजना से देश के 18 राज्य जुड़ेंगे जिनमें से 16 राज्य सरकार के साथ एमओयू साइन कर चुके हैं.
  • इन राज्यों में तमिलनाडु, केरल, मिजोरम, अरुणाचल प्रदेश, उत्तर प्रदेश, जम्मू कश्मीर, उत्तराखंड, झारखंड, मेघालय, हरियाणा, मणिपुर, उड़ीसा, मध्य प्रदेश, आंध्र प्रदेश,  कर्नाटक, त्रिपुरा,असम सम्मिलित है.
  • हालांकि अभी उड़ीसा और जम्मू कश्मीर के प्रतिनिधियों ने एमओयू पर हस्ताक्षर नहीं किए हैं क्योंकि वह मीटिंग में सम्मिलित नहीं थे.
  • प्रशिक्षण के बाद सभी प्रशिक्षणार्थियों को वस्त्र उद्योग से जुड़े संबंधित कार्यों में नौकरी भी दी जाएगी.

samarth scheme

  • इस योजना के अंतर्गत हथकरघा हस्तकला कालीन रेडिमेड परिधान भुने हुए कपड़े  धातु कला आदि सम्मिलित होंगे
  • वस्त्र क्षेत्र में कार्य करने वाले अधिकांश महिलाएं सम्मिलित हैं उनकी संख्या लगभग 75% है. इसलिए समर्थ स्कीम से महिलाओं को अपना हुनर निखारने के नए अवसर प्राप्त होंगे. जिससे महिला सशक्तिकरण की  और भी इस योजना का योगदान होगा.
  • एक अनुमान के अनुसार कपड़ा उद्योग में 16 लाख कुशल कामगारों की कमी है. इस प्रकार से समर्थ योजना से इस कमी को दूर करने का प्रयास भी किया जाएगा.

Samarth scheme ministry of textiles

  • प्रधानमंत्री समर्थ योजना 2019 के द्वारा अगले 3 वर्षों में लगभग 10लाख लोगों को कपड़ा उद्योग में प्रशिक्षित करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है.
  • इन 10 लाख लोगों में 9 लाख लोग ऑर्गेनाइज्ड सेक्टर के प्रशिक्षित किए जाएंगे वहीं 1 लाख प्रशिक्षु परंपरागत  सेक्टर से होंगे.
  • योजना शुरू होने पर  प्रशिक्षणार्थियों के लिए 80% अटेंडेंस अनिवार्य होगी.
  • अटेंडेंस के लिए आधार बेस्ड बायोमेट्रिक सिस्टम लगाए जाएंगे.
  • पूरे प्रशिक्षण को सीसीटीवी की निगरानी में रखा जाएगा.
  • समर्थ स्किन को सुचारू रूप से चलाने के लिए सरकार कॉल सेंटर भी स्थापित करेगी जिससे लोग अपनी समस्याओं का हल कॉल सेंटर में फोन करके भी कर सकते हैं.
  • स्वरोजगार के लिए सरकार प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के जरिए लाभार्थियों को आर्थिक सहायता भी प्रदान करेगी.

समर्थ योजना

समर्थ स्कीम एलिजिबिलिटी

सारथी योजना से संबंधित गाइडलाइंस में सरकार ने बताया है कि प्रशिक्षुओं की पहचान करने के लिए चयन की प्रक्रिया पारदर्शी और समावेशी होगी. प्रशिक्षु भारत का नागरिक होना चाहिए और उसकी आयु 14 वर्ष से अधिक होनी चाहिए.

समर्थ स्कीम आवश्यक दस्तावेज

Samarth scheme का लाभ लेने के लिए अधिक दस्तावेजों की आवश्यकता नहीं है इसके लिए आपकी आयु  14 वर्ष से अधिक होनी चाहिए और आपके पास आधार कार्ड होना चाहिए.

समर्थ योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन/ एप्लीकेशन फॉर्म

सरकार द्वारा जल्द ही समर्थ योजना ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया शुरू करने की आशा है. हालांकि अभी इसके बारे में कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है. समर्थ  योजना ऑनलाइन अप्लाई करने की जानकारी यह संभवत स्कीम एप्लीकेशन फॉर्म की जानकारी के लिए आप इस स्कीम की आधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते हैं. योजना से संबंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *